Tag: SHUBHAM ROY

जामिया हूं मै, जामिया हूं मै

By SHUBHAM ROY बड़े-बड़े सपने बुनकर ,अपनी खुद की राह चुन कर,उम्मीदों के नावों में बैठे इन बच्चों का ,बीच भंवर फंसे इन सपनों का,खुद मांझी बन, पतवार थाम,बार-बार, हर…

भाजपा..दीपक की लौ से कमल के खुशबू तक का सफर

तारीख, बिल्कुल आज से दो दिन पहले वाला, यानि दिन था 6 अप्रैल का और वर्ष था 1980 का। जगह, नई दिल्ली का फिरोज शाह कोटला स्टेडियम। दिमाग में जरूर…

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.