Tag: #patrakarita

उत्पाद सेवा गारंटी योजना और पत्रकारिता

सबसे पहले तो ये जान लें कि उपभोक्ता है तो उत्पाद है और उत्पाद है तो वस्तुएं हैं… ऐसे में सब को एक साथ समझना जरूरी है। उपभोक्ता कौन है?…

Vox pop और Walkthrough क्या होता है? मीडिया के क्षेत्र में इनकी भूमिका

वास्तव में वोक्सपोप और walkthrough पत्रकारिता के क्षेत्र में प्रयोग होने वाली एक तकनीक है, जिसे एक टीवी पत्रकार अपने न्यूज़ के रिपोर्टिंग के दौरान प्रयोग करता है। यह टेक्निक…

What is event management? इवेंट मैनेजमेंट क्या है?

किसी व्यावसायिक या केन्द्रीभूत इवेंट के संयोजन या योजनापूर्ण प्रक्रिया को इवेंट मैनेजमेंट कहते हैं। इसमें संगीत समारोह, फ़ैशन प्रदर्शनी, कॉरपोरेट सेमिनार, विवाह समारोह आदि कार्यक्रम शामिल हो सकते हैं,…

विज्ञापन के विभिन्न तत्व के बारे में लेखन

विज्ञापन किसी उत्पाद, वस्तु या सेवा को बेचने अथवा जानकारी देने के उद्देश्य से किया जाने वाला जनसंचार है। विज्ञापन शब्द वि तथा ज्ञापन शब्दों से मिलकर बना है। जिसमें…

प्राकृतिक आपदा व सामाजिक तनाव में जनसंपर्क की भूमिका

प्राकृतिक आपदा में जनसंपर्क प्राकृतिक आपदा से तात्पर्य ऐसी अकस्मात घटनाएं जिसकी भनक जीवित प्राणी को घटना के घटने के बाद पता चले जिससे मानवीय जीवन और संसाधनों पर काफी…

भारतीय लोकतंत्र के चुनाव प्रक्रिया में जनसंपर्क का महत्व

भारत देश एक विविधता वाला देश है। जहाँ विभिन्न प्रकार की संस्कृत , भाषा, धर्म के लोग बिना किसी भेदभाव के आपस में हँसी-खुशी से रहते हैं और समय आने…

विज्ञापन ने समाज व संस्कृत को किस तरह प्रभावित किया?

वर्तमान समय में विज्ञापन बाजार की दुनिया का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन चुका है। आज बाजार में अधिक से अधिक अपनी लोकप्रियता बढ़ाने, अपनी साख बनाने, अपने उत्पाद को अन्य…

विज्ञापन अभियान के बारे में बताते हुए विज्ञापन की आचार सहिंता का उल्लेख कीजिए

विज्ञापन अभियान आज के समय में अतिरंजित यथार्थ के अलावा कुछ भी नहीं है। यह लोगों को उकसा कर किसी उत्पाद को खरीदने के लिए प्रेरित करने के तत्पर होता…

विज्ञापन का अर्थ बताते हुए इसके विभिन्न प्रकारों का उल्लेख कीजिए?

विज्ञापन को अंग्रेज़ी में “Advertisement” कहते हैं जिसका सीधा सा अर्थ है अपने उत्पाद के बिक्री के लिए किसी संस्था को , पैसे देकर अपने सामान का प्रचार करवाना, ताकि…

समाचार के स्त्रोत

समाचार के स्त्रोत:-समाचार के मुख्यतः दो तरह के स्त्रोत होते हैं, पहला प्रत्यक्ष और दूसरा अप्रत्क्षय। प्रत्यक्ष स्त्रोत वे स्त्रोत हैं, जिसमें मीडिया के कर्मचारियों को सूचना सीधे प्राप्त हो…

नियामक सिद्धान्त क्या है? इसके विभिन्न सिद्धान्तों का वर्णन

(नियामक सिद्धान्त)किसी देश व समाज के संचार माध्यमों को समझने के लिए उस देश व समाज की आर्थिक और राजनीतिक व्यवस्था, भौगोलिक परिस्थिति तथा जनसंख्या को जानना महत्वपूर्ण है क्योंकि…

वर्तमान संदर्भ में समाचार पत्रों एवं टेलीविज़न कार्यक्रमों की प्रस्तुति की समीक्षा

वर्तमान संदर्भ में समाचार पत्रों एवं टेलीविजन के कार्यक्रमों का स्वरूप बदल गया है आजादी से पहले पत्रकारिता एक मिशन हुआ करती थी परंतु वैश्वीकरण के बाद पत्रकारिता के क्षेत्र…

समाचार संपादन में ग्राफ़िक्स, कार्टून और फ़ोटो का चयन

ग्राफ़िक्स ग्राफ़िक्स सूचनाओं और चित्रों का मिला जुला रूप होता है। यह फोटो से भिन्न होता है। यद्यपि यह भी समाचार अथवा घटनाक्रम पर ही आधारित होता है। लेकिन इसके…

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.