Author: ATUL PAL

#Believing silently critical thinking#

गांधीवाद की प्रासंगिकता

गांधीवादी विचारधारा का प्रभाव समाज के प्रत्येक वर्ग में देखने को मिलता है , चाहे वह भारत में हो या वैश्वीक स्तर पर । उनके दर्शन में लगभग सभी बुराइयों…