टाटा आईपीएल 2022 के 15वें सीजन में आज 14वां मैच महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम(MCA) में MI और KKR के बीच शाम के 7:30 बजे से होने जा रहा है।

5 बार विजयी MI अपने को ट्रेन की पटरी पर लाने का पूरा प्रयास करेगी

साल 2022 में मुम्बई का नसीब सही नहीं रहा है और अभी तक हुए मैचों में केवल हार का ही सामना किया है ऐसे में MI की टीम आज के होने वाले मैच को अपने नाम करना चाहेगी और 5 बार आईपीएल विजेता टीम यह कतई नहीं चाहेगी की उसका आईपीएल जीतने का क्रेडिट किसी और टीम के हार जीत के रन रेट पर जाए।

हम आपको बता दें कि MI ने रोहित शर्मा के कप्तानी में अभी तक खेले दोनों मैचों में हार का सामना किया है। वहीं इस बार आईपीएल में 10 टीमों में से केवल 4 टॉप टीमें ही प्लेऑफ में पहुचेंगी।

इस KKR में दम बहुत है

श्रेयस अय्यर इस बार KKR की तरफ से कप्तानी कर रहे हैं, पहले वे दिल्ली कैपिटल्स की तरफ से खेल रहे थे। इस बार KKR के फ्रेंचाइजी ने बड़े ही बैलेंस्ड तरीके से ऑक्शन में भाग लिया है और आपने टीम की जरूरत क्या है इस बात को ध्यान में रखकर खिलाड़ियों को खरीदा है जिसका असर साफ-साफ दिख रहा है। वैसे में आईपीएल 2021 में KKR फाइनल में पहुँची थी पर CSK के सैनिकों के सामने टिकने में कामयाब नहीं रहे थे।

ऐसे में आईपीएल 2022 में पहले मैच में चेन्नई को 6 विकेट से हराने के बाद, बेंगलुरु से कोलकाता की 3 विकेट से हार हुई। वही PBKS के खिलाफ 3सरे मैच में 138 रन के टारगेट को आसानी से 14.3 ओवर में चेज कर लिया और इसी के साथ यह अहसास कराने की कोशिश भी की दूसरे टीमों को कि, अब वे वो KKR नहीं रह गए जो लिबिर-लिबिर करते थे अब हम हो गए हैं यहाँ के बादशाह ऐसे में हमकों चाहिए अब फुल इज्ज़त, समझे क्या……..

कुल 29 मुकाबले खेले हैं कोलकाता और मुम्बई ने जिसमें 22 बार मुम्बई तो 7 बार कोलकाता को जीत हासिल हुई है

आईपीएल में अभी तक MI और KKR के बीच कुल 29 बार मुकाबले हुए हैं जिसमे से 22 बार MI ने तो 7 बार KKR ने जीत दर्ज की है। मुम्बई ने एक पारी में कोलकाता के खिलाफ अधिकतम 210 रन और न्यूनतम 108 रन बनाए हैं। वहीं कोलकाता ने एक पारी में सबसे ज्यादा रन 232 और न्यूनतम 67 रन का स्कोर बनाया है।

क्या सूर्यकुमार यादव खोलेंगे MI का भाग्य

अभी तक MI ने तीसरे नंबर पर अनमोलप्रीत सिंह से बल्लेबाजी करवाई है, जिसमें अभी वे कामयाब होते नहीं दिख रहे हैं। जिसका भुगतान कहीं-न-कहीं मुम्बई इंडियंस दिखाई दे रही है। ऐसे में MI के खेमें में सूर्यकुमार यादव का आना मुम्बई को लाभ दे सकता है।

मुम्बई के लिए दूसरी सबसे बड़ी मुश्किल है पोलार्ड के बैट और बॉल का न चलना। पोलार्ड ने राजस्थान के खिलाफ पारी के अंतिम गेंद पर आउट होने से पहले 22 रन 24 गेंदो में बनाए थे। ऐसे में MI 194 के लक्ष्य का पीछा करते हुए केवल 170 रन, 20 ओवर में 8 विकेट में बना पाई थी।

By Admin