The end Of Era of Captain cool mahendra singh dhoni in Ipl as captain

By SOCIAL MEDIA

आईपीएल 2022 के शुरुआत होने में महज दो दिन बचे हुए हैं ऐसे में चेन्नई सुपरकिंग्स के खेमे से एक बड़ी खबर है। महेंद्र सिंह धोनी न अपनी कप्तानी ऑल राउंडर रविन्द्र जडेगा को सौंप दिया है। इस फैसले के बाद एक तरफ धोनी के फैन्स हैरान हैं तो दूसरी तरफ जडेजा को कप्तानी के लिए बधाईयां भी दी जा रही है।

जब से इंडियन प्रीमियर लीग की शुरुआत हुई है तब से चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ही हैं। इसके अलावा चेन्नई सुपरकिंग्स की कप्तानी केवल सुरेश रैना ने ही की है जिसके तहत रैना ने छह मैचों का जिम्मा संभाला था। पहली बार रैना ने 2010 में यह कमान संभाली थी और दूसरी बार 2019 मे उन्होंने चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए आईपीएल की कप्तानी संभाली थी। चैंपियंस लीग में रैना के कैप्टेंसी में धोनी ने भी मैच खेला था।

By SOCIAL MEDIA

थाला ने 2008 से आईपीएल के पहले सीजन से लेकर 2021 के सीजन तक लगातार चेन्नई सुपरकिंग्स की कप्तानी की है। बीच मे जब दो साल CSK ससपेंड हुई तब धोनी ने राइजिंग पुणे सुपर जाएंट के लिए एक सीजन में कप्तानी संभाली थी। ऐसे में थाला ने आईपीएल अभी तक हुए 14 सीजन में से 13 सीजन कप्तान रहे हैं। इस प्रकार अब चेन्नई सुपरकिंग्स को तीसरा कप्तान आईपीएल का मिल गया है।

जडेगा बनेंगे चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान

जडेगा एक ऑल राउंडर क्रिकेटर हैं और उन्होंने पिछले दो सालों में अपनी काबिलियत भी दिखा दी है। हालांकि, उन्होंने अभी तक शायद ही किसी घरेलू या दूसरे लीग में कप्तानी की हो। ऐसा सुनने में आ रहा है की धोनी अपने रहते ही चेन्नई के लिए एक कैप्टन तैयार करना चाहते थे और उन्होने जडेजा का नाम स्वयं प्रपोज किया। ऐसे में उन्होंने जडेगा को 16 करोड़ में रिटेन करवाया और खुद 12 करोड़ में चेन्नई के लिए रिटेन प्लेयर हुए।

2012 में जडेजा का आगमन हुआ था चेन्नई सुपरकिंग्स में

रविन्द्र जडेजा 2012 में CSK टीम का हिस्सा बने थे और CSK से जुड़ने से पहले वे राजस्थान रॉयल्स और कोच्चि टस्कर्स केरला टीम का हिस्सा भी रहे। जडेजा को 2012 में चेन्नई ने 12 करोड़ की सबसे ज्यादा बोली लगाकर अपने टीम में जोड़ा था। CSK के सस्पेंड को छोड़ दें तो जडेजा 2012 के बाद इसी टीम के मेंबर रहे है और 2016- 17 के CSK टीम के ससपेंड के दौरान इन्होंने गुजरात लायंस टीम के साथ अपनी भूमिका निभाई थी।

अब आगे की क्या सोच हो सकती है धोनी की

गौतम गंभीर ने अपने हाल के दिये हुए इंटरव्यू में कहा था कि 4 और 5 नंबर पर बैटिंग करने वाले महेंद्र सिंह धोनी पिछले सीजन के दौरान 6 और 7 नंबर पर खेलते नजर आए। जडेजा को उन्होंने खुद से पहले बैटिंग के लिए भेजा था। असल मे गंभीर की बात को सुने तो उन्हें लगता है कि यह महेंद्र सिंह की एक सोची समझी रणनीति है। जिसके तहत वे केवल विकेटकीपर का किरदार निभाना चाहते हैं और टीम के मेंटर के रूप में 2021 के टी-20 वर्ल्ड कप की तरह अपना योगदान देना चाहते हैं।

धोनी के कैप्टेंसी छोड़ने पर ट्विटर पर अधिकारिक बयान जारी किया CSK ने….

आईपीएल में धोनी की कप्तानी, चैंपियनशिप और रिकॉर्ड

  • धोनी ने चेन्नई सुपरकिंग्स की कप्तानी करते हुए इस टीम को 6 बार चैंपियन बनाया।
  • महेन्द्र सिंह धोनी ने आईपीएल में अभी तक 204 मैचों में कप्तानी की है जिसमे से 121 मैच उन्होंने जीते है और 82 मैचों में हार का सामना करना पड़ा है। अगर धोनी के जीत के प्रतिशत को देखें तो वह 59.60% रहा है।
  • धोनी की कप्तानी में CSK ने 9 बार फाइनल में पहुचने में कामयाबी हासिल की तो वहीं 11 बार टीम प्लेऑफ तक पहुँची।
  • CSK के लिए कप्तानी करते हुए 2020 का सीजन खराब रहा क्योंकि टीम प्लेऑफ में नहीं पहुँच पाई।
  • महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में चेन्नई सुपरकिंग्स ने 4 बार आईपीएल का खिताब अपने टीम के नाम किया। वही धोनी 2 बार टीम को चैंपियन लीग जिताने में सफल रहे।
  • चेन्नई की कप्तानी छोड़ते ही धोनी साल 2007 के बाद पहली बार बिना कप्तानी के खेलने जा रहे हैं।
  • अपने कप्तानी कैरीर में धोनी ने टीम इंडिया को ICC की तीनों ट्रॉफी वर्ल्ड कप, टी-20 वर्ल्ड कप और ICC चैंपियन ट्रॉफी का विजेता बनाया है।

By Admin