वास्तव में वोक्सपोप और walkthrough पत्रकारिता के क्षेत्र में प्रयोग होने वाली एक तकनीक है, जिसे एक टीवी पत्रकार अपने न्यूज़ के रिपोर्टिंग के दौरान प्रयोग करता है। यह टेक्निक यह बताती है कि कोई भी की जाने वाली रिपोर्टिंग किस रूप में की गयी है। उदाहरण के लिए अगर देखें तो अगर कोई रिपोर्टर फील्ड में रिपोर्टिंग करने जा रहा है तो उसे पहले ही यह बता दिया जाता है या ज्ञात होता है कि उसे वोक्सपोप करना है या walkthrough। इसके बारे में पूरी जानकारी आगे दी गयी हुई है।

Voxpop(आम विचार):- पत्रकारिता में, वोक्सपॉप या मैन ऑन द स्ट्रीट, पब्लिक के सदस्यों के साथ संक्षिप्त साक्षात्कार को संदर्भित करता है।

वोक्सपॉप का अर्थ है, लोगों की आवाज।

उस व्यक्ति को यह बताना महत्वपूर्ण है कि आप वाक्स पॉपिंग कर रहे हैं जहां फुटेज दिखाए जाने की संभावना है। यानी आप उसकी राय लें रहे है यह सामने वाले को पता होना चाहिए। अगर हम बजट के ऊपर लोगों से voxpop कर रहें है तो उन्हें यह पता होना चाहिए कि सामने वाला रिपोर्टर उनसे बजट से संबंधित जानकारी या राय चाहता है।

Advertisements

ऐसा करते हुए उनका पूरा नाम और सहमति फॉर्म प्राप्त करना भी बुद्धिमानी है, ताकि यह आगे रिफरेन्स में दिखाया या बताया जा सके कि उन्होंने अपने मर्जी से अपने राय व्यक्त किए हैं।

सरल और छोटे शब्दों में कहें तो वोक्सपॉप पब्लिक के, एक सदस्य के साथ फिल्माया गया, इंटरसेप्ट साक्षात्कार है और जिसका उपयोग वीडियो प्रारूप में जनता की राय को पकड़ने के लिए किया जाता है। जिससे यह पता लगाया जा सके कि जनता के मन मे किसी विषय को या मुद्दे को लेकर क्या सोच है।

Voxpop tip:-

1. एक अच्छी तरह से यात्रा की जाने वाली जगह चुनें।
2. एक प्रतिष्ठित पृष्ठभूमि चुनें
3. लोगों को अपने स्थान पर लाएं।
4. सभी से एक समान प्रश्न पूछे
5. अगले व्यक्ति को क्रॉस एक्सिस में शूट करने के बाद 5 सेकंड के लिए रिकॉर्डिंग जारी रखें। (अपने आप को लेंस के एक तरफ और फिर लेंस के दूसरी तरफ रखें)।

Vox pop review:-

कैमरे को सामान्य आंखों के स्तर पर रखें।
एक प्रतिष्ठित पृष्ठभूमि चुनें
अच्छी तरह से प्रकाशित क्लोज-अप में लिखें।
अच्छा ऑडियो लीजिए।
साक्षात्कार क्रॉस अक्ष शूट करें।

WALKTHROUGH:-

एक स्थान पर एक रिपोर्टर को कहानी सुनाने के लिए अपने कैमरा मैन के माध्यम से वास्तविक स्थिति दिखाता है और पूरा दृश्य बताता है। दूसरे शब्दों में कहें तो एक स्थान पर रिपोर्टर अपने कैमरा मैन के द्वारा वास्तविक स्थिति दिखाता है या दिखाने का प्रयास करता है, उस स्थान से संबंधित कहानी सुनाता है और फिर उस स्थान पर पीड़ितों/मेहमान गण से बात करता है।

एक रिपोर्टर को फील्ड में रिपोर्टिंग के दौरान यह हमेशा ध्यान रखना चाहिए कि उसे एक ही समय पर vox pop और walkthrough दोनों समय की मांग के अनुसार करना पड़ सकता है। उदाहरण के लिए महिला सशक्तिकरण पर एक महाशय मंच से बहुत बड़ी-बड़ी बाते कह रहे हैं पर जब, रिपोर्टर ने लोगों से उनकी राय पूछी तो उन महाशय का चरित्र चित्रण अलग ही नज़र आया। अब आप तो रिपोर्टर के नाते पहले walkthrough कर रहे थे पर जैसे ही लोगों से राय लेने शुरू किया वैसे ही आपका कायापलट हो गया। ऐसे में देखें तो अब आपका voxpop ही आपके मुख्य खबर के रूप को धारण कर लिया। ऐसे में, मीडिया में vox pop और walkthrough को एक सिक्के के दो पहलू भी कहा जा सकता है

दोनों ही माध्यम सत्यता और तथ्यता को समझने में आसान रास्ता मुहैया करा सकते हैं और इसी के साथ ये एक दूसरे के पूरक के रूप में काम कर सकते हैं।

By Admin

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.