ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने मंगलवार को अपने मंत्रिमंडल के सदस्यों से कहा कि शुरुआती संकेतों से पता चला है कि कोरोनावायरस का ओमिक्रान स्वरूप, डेल्टा स्वरूप से अधिक संक्रामक है। इस वक्त ब्रिटेन में डेल्टा स्वरूप के संक्रमण के मामले अधिक संख्या में सामने आ रहे हैं।

मंत्रिमंडल की बैठक के बारे में जानकारी देते हुए प्रधानमंत्री कार्यालय के प्रवक्ता ने संवाददाताओं से कहा कि जॉनसन ने दोहराया कि फिलहाल कोविड-19 के नए स्वरूप के व्यापक प्रभाव के बारे में कोई भी निष्कर्ष निकालना जल्दबाजी होगी।

हम आपको बता दें कि, ओमिक्रान का पहले केस की घोषणा दक्षिण अफ्रीकी में महामारी पर नज़र रखने वाले वैज्ञानिकों ने किया, जिन्होंने पहले बोत्सवाना में ओमिक्रोन का पता चलने की बात कही और बाद में दक्षिण अफ्रीका में इस वैरीअंट के पता चलने की बात कही। जिसको वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने 25 नवंबर को ओमिक्रान नाम दिया और इसे वैरिएंट ऑफ कंसर्न कह कर इसकी आधिकारिक घोषणा की।

ओमिक्रान वेरिएंट अभी तक मिली सूचना के अनुसार लगभग 25 देशों में और सभी महाद्वीपों में पाया गया है। जिस के संदर्भ में वैज्ञानिकों का कहना है कि महामारी पर इसके प्रभाव को समझने में अभी समय लगेगा।

By Admin