आपको बता दें कि यह दुनिया का एक मात्र स्तनधारी प्राणी है जो आकाश में उड़ान भर सकता है। दुनियाभर में चमगादड़ की लगभग 1 हजार से भी ज्यादा प्रजातियां हैं।

दरअसल चमगादड़ उल्टा इसलिए लटकते हैं क्योंकि इससे इनको उड़ान भरने में आसानी होती है। यह अन्य पक्षियों की तरह जमीन से उड़ान नहीं भर सकते हैं।

इनके पैर अविकसित और इतने छोटे होते हैं कि यह जमीन से उड़ने के लिए और गति पकड़ने में मदद नहीं कर पाते हैं। जमीन पर इनके पैर, शरीर का वजन नही संभाल सकते । आपने बहुत कम बार ही किसी चमगादड़ को जमीन पर बैठा हुआ पाया होगा। अगर यह किसी कारण जमीन पर बैठ भी जाते हैं तो ऐसा लगता है कि यह पसरे हुए हैं।

इसके अलावा अक्सर लोगों के मन मे एक और सवाल होता है कि जब चमगादड़ उल्टा लटकते हुए सोते हैं तो यह नीचे क्यों नहीं गिरते हैं। इसका कारण यह है कि इनके पैरों की नसें इस तरह व्यवस्थित रहती हैं कि इनका वजन ही पैरों को मजबूत पकड़ बनाने में मदद करता है।

Advertisements

By Admin

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.