Day: 10 September 2021

Shirshak lekhan ke siddhant

शीर्षक समाचार पत्र का सारतत्व उदघोषिक करने वाली पंक्ति अर्ध, अर्ध पंक्ति अथवा पद समूह है। प्रेमनाथ चतुर्वेदी के मतानुसार:- शीर्षक समाचार पत्र का प्राण और उसके सार का विज्ञापन है समाचार पत्र की मनोभावना का प्रतिबिंब है। समाचार पत्रों की बिक्री का रहस्य ही शीर्षकों की सार्थकता, पैनापन संक्षिप्तता एवं जीवंतता है। यह कहना …

Shirshak lekhan ke siddhant Read More »

कॉपी संपादन (प्रति संपादन)

कॉपी संपादन वह क्रिया है जिसके द्वारा कोई भी संपादक या उपसंपादक लिखित सामग्री में विभिन्न तरह के सुधार और बदलाव करता है। प्रति या कॉपी उस लिखित सामग्री को कहा जाता है जिसमें अभी सुधार किया जाना है। अंत मे उसे कंपोज़ या टाइप करना होता है ताकि उसे प्रकाशित किया जा सके। वह …

कॉपी संपादन (प्रति संपादन) Read More »

जज मृत्युदंड के आदेश के बाद कलम के निब को क्यों तोड़ देते हैं…

दोस्तों हर देश मे हर जुर्म के लिए अपने-अपने कानून हैं और प्रत्येक देश उन कानूनों का पालन करते हुए उसी प्रकार का दंड या कहें सजा देता है। आज हम बताने जा रहे हैं कि आखिर क्यों जज तोड़ देता है उस पेन के निब को, जिससे उसने किसी को मृत्युदंड देने का फरमान …

जज मृत्युदंड के आदेश के बाद कलम के निब को क्यों तोड़ देते हैं… Read More »

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.