Sun

सूर्य हमारे सौर मंडल का दिल है और इसकी गुरुत्वाकर्षण ही हर ग्रह और कण को कक्षा में रखती है। यह पीला बौना तारा बिलकुल मिल्की वे के आकाशगंगा की तरह अरबों में से एक है।

सूर्य कब खत्म हो सकता है

सूर्य पृथ्वी पर जीवन के लिए ऊर्जा देता है, और इस तारे के बिना, हम यहां नहीं होंगे। लेकिन अंतरिक्ष में अधिकांश चीजों की तरह, यहां तक कि सितारों में भी सीमित जीवनकाल होते हैं, और किसी न किसी दिन हमारा सूर्य भी मर जाएगा।

लेकिन आपको इस सौर मृत्यु के बारे में अभी चिंता करने की आवश्यकता नहीं है, हालाँकि। सूर्य के अंदर , एक मंथन फ्यूजन इंजन है,जो स्टार को ईंधन देता है, और इसमें अभी भी बहुत ईंधन बचा है। एक अनुमान के अनुसार यह लगभग 5 बिलियन वर्ष और चल सकता है ।

सूर्य के गायब होने पर क्या होगा

  • सूर्य के गायब होने पर , पृथ्वी पर कुछ ही मिनट में सारे पेड़-पौधे ऑक्सीजन देना बंद कर देंगे क्योंकि पौधों में फोटोसिंथेसिस की प्रक्रिया सूर्य के किरणों के मौजूदगी में होती है, जिससे वह अपना खाना बनाते हैं।
  • सूर्य के गायब होने से चाँद भी चमकना बंद कर देगा, यहाँ एक बात जान लेना चाहिए की Moon का अपना कोई प्रकाश नहीं होता है। वह सूर्य की किरणों से प्रतिबिम्बित या कहे कि प्रकाश लेकर चमकता है।
  • सूर्य के गायब होने के कुछ ही दिनों बाद पृथ्वी का तापमान -7℃ तक चले जाने से सारा पानी बर्फ बन जाएगा।पानी के बर्फ में परिवर्तन हो जाने से इंटरनेट सुविधा भी काम करना बंद कर देगी। जिसका कारण यह है कि, इंटरनेट के ऑप्टीमल फाइबर्स केबल्स समुद्र के अंदर बिछाए गए होते हैं, जो विश्व को एक जाल के रूप में जोड़ने का काम करते हैं। लेकिन , पानी के बर्फ बन जाने से सारा केबल कनेक्शन तहस-नहस हो जाएगा, जिससे नेट का जाल टूट जाएगा और हमारा जुड़ाव खत्म हो जाएगा।
  • पृथ्वी पर मौजूद पेड़-पौधे कुछ ही दिनों में नष्ट हो जाएंगे। इसके चलते शाकाहारी जानवर भी धीरे-धीरे मरने लगेंगे।
  • आसमान में टिमटिमाते तारे भी अलग तरह से दिखने लगेंगे क्योंकि पृथ्वी अंतरिक्ष में पहले की स्थिति से दूर निकल चुकी होगी। ऐसे में लगभग एक महीने बाद धरती का तापमान -40℃ से नीचे जा चुका होगा और हमारे नीले रंग की पृथ्वी बर्फ की वजह से अंतरिक्ष में सफेद रंग की दिखाई देने लगेगी।
  • सूर्य के गायब होने के 1 से 2 महीने के बीच में ही पृथ्वी पर से मानव सहित सारे जीव जंतुओं का अस्तित्व मिट जाएगा। पृथ्वी पर बनी सारी बिल्डिंग बर्फ से जम जाएंगी। उस समय बर्फ की सिर्फ बड़ी बड़ी चट्टाने ही नजर आएंगी।
  • बिना सूर्य के गुरुत्वाकर्षण के कारण पृथ्वी तेजी से आगे बढ़ रही होगी और ज्यादा संभावना है कि गुरुत्वाकर्षण के कारण सारी पृथ्वी BLACK HOLE में समा जाए और कुछ ही सेकंड में ही सारी पृथ्वी नष्ट हो जाए।

इन तथ्यों से कह सकते हैं कि बिना सूर्य के पृथ्वी कुछ ही महीनों में तबाह हो जाएगी।

By Admin

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.