नरेंद्र मोदी

नरेन्द्र मोदी के अलग अलग style में हर वर्ष सैलूट करने की वजह हमारे देश की तीन सेना- जल,थल और वायु सेना हैं। जिनको सम्मान देने के लिए वह ऐसा करते हैं।

भारतीय वायु सेना( INDIAN AIR FORCE)

Bharat की वायु सेना को सलामी देने का तरीका, खुली हथेली को 45 डिग्री के एंगल पर झुकाकर किया जाता है।जो कि इस सेना की आसमान की प्रगति को दर्शाता है। मार्च 2006 से पहले एयर फोर्स के सैलूट का तरीका INDIAN आर्मी की तरह था, पर मार्च 2006 के बाद इसे बदल दिया गया।

भारतीय नौसेना(INDIAN NAVY)

INDIAN NAVY अनोखे अंदाज में सैलूट करते हैं। इसमें उनका पंजा बिल्कुल दिखाई नहीं देता । हाथ पूरी तरह नीचे की तरफ 90 डिग्री में मुड़ी रहती है। जिसके पीछे का कारण यह बताया जाता है कि पुराने समय मे जब जहाज में काम करने के दौरान सैनिकों के हाथ गंदे हो जाते थे , तो अफसरों को सैलूट करने के दौरान अपने हाथ इस तरह छिपाते थे।

भारतीय थल सेना (INDIAN ARMY)

INDIAN ARMY हमेशा खुले हाथ से सलामी देते हैं।सारी उंगलियां सामने की तरफ खुली और अंगूठा साथ मे खुला होता है। यह अपने से सीनियर के प्रति सम्मान जताने का तरीका है। साथ ही यह तरीका यह भी जताता है कि सामने वाले के पास किसी भी तरह का कोई भी हथियार नहीं है और आप उनपर भरोसा कर सकते हैं।

Advertisements

यही सब tareeka हैं नरेंद्र मोदी के अलग अलग स्टाइल में हर वर्ष अपने सैनिकों को सम्मान करने का।

By Admin

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.